माही का जलवा, मौलाना आजाद की याद में पेंटिंग प्रतियोगिता, साइंस प्रदर्शनी का आयोजन


रांची। मौलाना आजाद ह्यूमन इनिशिएटिव (माही)के तत्वावधान में मौलाना आजाद की याद में  कामिल बुल्के पथ  स्थित लोयला ट्रेनिंग सेंटर के जफर कमाल सभागार एवं प्रांगण में भव्य शिक्षा एवं सांस्कृतिक मेला का  आयोजन किया गया था। कार्यक्रम को दो सत्रों में बांटा गया था।पहले सत्र का 

उद्घाटन झारखंड विधानसभा के अध्यक्ष रबिंद्रनाथ महतो ने किया, विशिष्ट अतिथि पद्मश्री मधु मंसूरी हंसमुख, राज्य सभा सांसद डा. महुआ माजी,  कार्यक्रम की अध्यक्षता माही के संयोजक इबरार अहमद ने किया। 

सभा को संबोधित करते हुए रबिंद्रनाथ महतो ने कहा कि मौलाना आजाद युग पुरुष थे। शिक्षा में इनके योगदान को कभी भी फरामोश नहीं किया जा सकता।वह आधुनिक शिक्षा के न केवल वास्तुकार थे, बल्कि देश के निर्माण में उनकी भी महत्ती भूमिका थी।आज उन्हें याद करते हुए गर्व महसूस हो रहा है।उनकी नजरबंदी के पौने चार साल जो रांची में गुजारे यह भारतीय इतिहास के पन्नों में हमेशा के लिए सुरक्षित हो गया।  बता दें कि करीब  30 स्कूलों के लगभग 700 बच्चों ने अपनी कृतियों से मनमोहक दृश्य बिखेरे और अपनी पेंटिंग से वस्तुओं को सजीवता प्रदान की।

   डॉक्टर महुआ मांजी ने कहा कि समाज में आप शिक्षा का अलख जाग रहा है और मौलाना आजाद के नाम पर भव्य कार्यक्रम भी आयोजित किए जा रहें हैं, यह सबसे बड़ी उपलब्धि है। वहीं मंच के अध्यक्षता कर रहे माही के संयोजक इबरार अहमद ने कहा कि सौहार्द, एकता ,भाईचारागी और गंगा जमुनी तहजीब के प्रतीक मौलाना अबुल कलाम आजाद का जन्म 11 नवंबर को हुआ था। 

 हर साल 11 नवंबर को कार्यक्रम आयोजित किये जाते हैं। लेकिन इस बार किसी कारणवश इस बार हम लोग 13 नवंबर को कार्यक्रम आयोजित किए गए। वही दूसरे सत्र में रांची विश्वविद्यालय के पूर्व कुलपति कामिनी  कुमार ने संबोधित करते हुए कहा कि बच्चों में शिक्षा का अलख जगाने के लिए इस तरह के आयोजन होते रहना चाहिए।  जब तक बच्चा समाज में जागरूक नहीं होंगे, तो समाज का विकास नहीं होगा। इसलिए शिक्षा बहुत जरूरी है।  

ग्रामीण एसपी नौशाद आलम ने भी संबोधित किया। वहीं मंच संचालन मुस्तकीम आलम व सरफराज अहमद सुड्डू  ने किया। कार्यक्रम के समापन के दौरान झारखंड के मशहूर चित्रकारों को भी सम्मानित किया गया , 

जिसमें अंतरराष्ट्रीय चित्रकार प्रवीण करमाकर, झारखंड के मशहूर चित्रकार युसूफ अली ,देवेंदू पाल ,महबूब और शाहदेव लोहार शामिल थे, वहीं निजी स्कूल एवं अल्पसंख्यक स्कूल के बच्चों के द्वारा साइंस एग्जीबिशन प्रदर्शनी लगाया गया था और कई बच्चों ने पेंटिंग कंपटीशन में हिस्सा भी लिया था और 300 से अधिक बच्चों ने पेंटिंग कंपटीशन में शामिल हुए थे ।

 कार्यक्रम को सफल बनाने में माही के संयोजक अबरार अहमद, मुस्तकीम आलम, सरफराज अहमद सुड्डू,  ग्यासुद्दीन मुन्ना , शकील, सलाउद्दीन, अशफाक आलम ,अजमत अली, हाजी नवाब, खालिद ,सैफुल्लाह, अरशद, नजीब, मोहम्मद जाहिद, इकबाल ,नाजिश, परवेज कुरेशी , इप्टा झारखंड के अध्यक्ष श्यामल मल्लिक, सहित विभिन्न स्कूलों के शिक्षक शिक्षिकाएं एवं छात्र छात्राएं उपस्थित रहे  । 

इन्हें किया गया सम्मानित: 

पेंटिंग प्रतियोगिता में ए ग्रुप:  में हम्माद ,सुरभि पचाल ,आदित्य कुमारी, ग्रुप बी:  में होमैया पर्वे, अफान, निलेश कुमार नाग, 

ग्रुप सी:  में प्रिया श्री , श्रेया मंडल, ज्ञान प्रगति सहित अन्य अल्पसंख्यक स्कूलों के भी छात्रों को प्रथम ,द्वितीय ,तृतीय पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया। वहीं विभिन्न स्कूलों के करीब 30 स्कूलों के छात्र छात्राओं ने प्रदर्शनी लगाये  थे उन्हें भी   सर्टिफिकेट और पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया।

Post a Comment

0 Comments

Hopewell Hospital
Shah Residency IMG
S.R Enterprises IMG
Safe Aqua Care Pvt Ltd Image